कश्मीर की कली compleet

Share

[size=150:hwi0m3gt][color=#800000:hwi0m3gt] Raj-Sharma-stories

कश्मीर की कली पार्ट–1

मेरा नाम तूबा है. मेरी करेंट एज 25 साल है. मैं, यूएसए में रहती हूँ. अभी अफीशियली शादी नही हुई है (यह स्टोरी में एक्सप्लेन करूँगी). में लाहोर , पाकिस्तान में ऐक कश्मीरी फॅमिली में पैदा हुई. जेसा के आपको पता हो गा के कश्मीरी लोग बोहत गोरे चिटे और इंतिहाई खूबसूरत होते हें, इसी तरहा में भी देखने में अपने गोरे रंग और ब्लू आइज़ की वजह से बिल्कुल अमेरिकन लगती हूं. मेरा जिस्म 18 साल की उमर में ही पूरी तरहा डेवेलप हो गया था और मेरा फिगर 34सी 30 34 हो गया था. मेरी शकल मेरे गोरे रंग और स्मूद स्किन की वजह से कुछ कुछ करीना कपूर से मिलती है मगर मेरा जिस्म करीना से कही ज़ियादा कर्वी और सेक्सी है. में जहाँ जाती हूँ लड़के मेरे दीवाने हो जाते हेँ.

पता नही क्या वजा थी के क़ुद्रत ने मुझे ऐक चीज़ से नही नवाज़ा था……. और वो है मेरा क़द (हाइट). मेरी हाइट 5′ से भी थोरी कम है…. मुझे यह कॉंप्लेक्स हमेशा से रहा के मेरी हाइट बोहत कम है. मेने इसी कॉंप्लेक्स की वजा से हमेशा अपने वज़न का ख्याल रखा है…. मेरा वज़न 95 पाउंड्स है…. कभी कभी 100 पाउंड्स हो जाता है तो में डेइटिंग कर के कम करती हूँ. और वज़न कम होने की वजा से ही में इतनी सेक्सी लगती हूँ.

मेरी लाइफ में बोहत उतार चढ़ाव आये हेँ और मेरी यह कहानी उन्ही पर आधारित है. में 8 साल की थी जब मेरे अब्बू का दिल के दौरे से इंतिक़ाल हो गया और में अपनी अम्मी और ऐक बड़े भाई (सलमान भाई) जो मुझ से 12 साल बड़े हेँ के साथ इस दुनिया में अकेली रह गयी… अब्बू के जाने से हम सब बोहत दुखी हो गये… लेकिन लाइफ तो रुकती नही चलती रहती है…. अब्बू का अपना बिज़्नेस था और वो बोहत दौलत छोड़ कर गये थे इस लिये कभी कोई फाइनान्षियल प्राब्लम नही हुई. लाइफ इसी तरहा गुज़रती रही और धीरे धीरे अब्बू के बाघैर ही हम सब ने जीना सीख लिया. में 18 साल की थी जब सलमान भाई ने 27 साल की उमर में हमारी फुप्पो की बेटी अनाम से शादी कर ली. अनाम भाबी मुझ से 7 साल बड़ी थी… अनाम भाबी हमेशा मुझे छोटी बहन की तरहा चाहती थी, बोहत प्यार करती थी और कभी कभी मेरी ग़लतियो पर बोहत डाँट भी देती थी….ऐक दो बार मेरी पिटाई भी कर चुकी थी… मुझे उन से बोहत प्यार था मगर में उन से डरती भी बोहत थी…

अनाम भाबी खुद भी कश्मीरी होने की वजा से बोहत खूबसूरत थी… फिगर एग्ज़ॅक्ट्ली मेरी ही तरहा था मगर उनका क़द (हाइट) 5’6" होने की वजा से सलमान भाई की हाइट 6’2" के साथ बोहत अछी लगती थी… शादी के ऐक साल बाद सलमान भाई को यूएसए के स्टेट डेप्ट. से ऐक बोहत अछी जॉब ऑफर हुई और वो मुझे और अम्मी को रोता छोड़ कर अनाम भाबी के साथ यूएसए में शिफ्ट हो गये…में उस वक़्त 20 साल की होने वाली थी..

सलमान भाई के यूएसए मूव होने के कोई 6 मॉत्स बाद मुझ पर ऐक और क़यामत टूटी…. मेरी अम्मी भी दिल का दौरा पड़ने से अचानक इस दुनिया से रुखसत हो गयी…और में अब इस दुनिया में बिल्कुल अकेली रह गयी. अम्मी के मरने पर सलमान भाई और अनाम भाबी यूएसए से फॉरन लाहोर पोहन्च गये. में 20 साल की थी, हमारे रिश्ता दार तो बोहत थे मगर सलमान भी मुझे अकेला नही छोड़ना चाहते थे इस लिये वो मेरे वीसा का बंदोबस्त कर के ही आये थे…. उनका स्टेट डेप्ट. में जॉब करना काम आ गया. अम्मी के मरने के 2 वीक्स के बाद हम तीनो लाहोर से , यूएसए आ गये…..

शुरू शुरू में तो वान्हा में मेरा दिल बिल्कुल नही लगा लेकिन जब सलमान भाई ने मुझे स्कूल में दाखला दिला दिया तो में वहाँ की लाइफ की आदि होती गयी. हो सकता है मेरी कहानी में यह सब डीटेल्स आपको बोरिंग लगें मगर इस के बगैर इस कहानी को लिखना मुमकिन नही था मेरे लिये.

अब में शुरू करती हूँ कहानी का वो हिस्सा जिस की वजा से आप यह कहानी पढ़ रहे हेँ…

मुझे यूएसए आये हुए तक़रीबन 6 मंत हो चुके थे. में अभी भी वर्जिन थी, मुझे सेक्स के बारे में कुछ ज़ियादा नही पता था. मेरी लाइफ में सेक्स के पॉइंट ऑफ व्यू से सिर्फ़ ऐक मरद आया था और वो भी ज़बरदस्ती. यह बात है कोई 8 मंत्स पहले की है जब सलमान भाई और अनाम भाबी यूएसए चले गये थे और में अम्मी के साथ अकेली रहती थी… अक्सर हमारे रिश्तदार हमारे घर आते रहते थे अम्मी और मेरी खबर गीरी के लिये. ख़ास तौर पर अनाम भाबी के अब्बू. वो मेरे फ़ुप्पा लगते थे और में उनको ज़फ़र अंकल कहती थी… वो इस लिये भी शायद ज़ियादा आते थे क्यों के उनका हमसे अनाम भाबी की वजा से डबल रिश्ता था… [/color:hwi0m3gt][/size:hwi0m3gt]

Share
Posted in Uncategorized
Article By :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *