ससुर बने साजन (sasur bane sajan) compleet

Share

[size=150:3fhgofn1][color=#000080:3fhgofn1]ससुर बने साजन पार्ट –1

हेलो फ्रेंड्स मैं हाजिर हूँ आपनी नई स्टोरी के साथ. दोस्तो आपने

पहचान ही लिया होगा मैं हूँ कुसुम.बात उन दिनो की है जब मेरे देवर

की शादी थी. मेरी शादी के कोई 2 साल बाद मेरे देवर की शादी हो गई

थी.मैं ज़यादा लंबी बातचीत ना करके सीधा स्टोरी पे आती हूँ.

बात शादी वाली रात की है मैं ओर मेरी बड़ी ननद शालु दोनो मेरे

रूम मैं बैठे हुए थे टाइम था कोई रात के 12 बजे के करीब हम

दोनो गप्पे मार रहे थे. घर के सभी लोग ओर मेहमान सो चुके

थे.मेरी आपनी इस ननद के साथ बहुत बनती थी वो मुजसे आपनी हर

बात खुल के कर लेती थी ओर मैं भी आपनी हर बात उसे खुल के बता

देती थी लेकिन मैने अपने नाजाएज संबंधों के बारे मैं उसे कभी

नही बताया था. हम दोनो यू ही आपस मैं बाते कर रहे थे कि

अक्चानक वो बोली भाभी….

शालु- भाभी आज तो नीरज की मौज हो जाएगी

मैं – वो कैसे

शालु – आज उसकी सुहाग रात जो है

मैं – वो तो है ही

शालु – आप की सुहाग रात कैसी थी भाभी

मैं – चलिए दीदी ऐसी बातें नही करते

शालु – इसमे शरम की क्या बात है भाभी ये तो सब के साथ होता है

मैं – अब मैं क्या बताउ तुझे

शालु – ये ही कि भैया ने आप के साथ क्या क्या किया था

मैं – बहुत गंदी बातें करती हो आप

शालु – इस्मै गंदी बात क्या है भैया ने जो आप के साथ किया होगा वो

ही मेरे साथ मेरे पति करते हैं ओर आज हमारा नीरज भी करेगा है

ना.

मैं – दीदी आप भी ना बस

शालु _ अच्छा एक बात बताओ भाभी अगर कहो तो पूछ लू

मैं – कहिए अगर मैं ना भी कहूँगी तो भी आप पूछ ही लेंगी

शालु – हमारे जतिन का कितने इंच का होगा

मैं – क्या पूछ रही हैं आप दीदी

शालु – अरे भाभी मैं लंड की बात कर रही हूँ

मैं – अब मुझे क्या पता दीदी

शालु – मैने सोचा कि श्ययाद आप ने कभी देख लिया हो को कि देवर

भाभी मैं बहुत प्यार है ना

मैं – दीदी आप कैसी बातें करती हैं मैं एक दम सकपका गई थी

शालु – अरे मैं तो मज़ाक कर रही थी

मैं – दीदी आप भी ना बस

शालु – मैं तो सोच रही थी कि आज नई भाभी खूब चीखेगी.भाभी

एक बात बताओ कि भैया के लंड का साइज़ क्या है

मैं – दीदी आप क्या बातें कर रही हो

शालु – अरे जब मैं आप से हर बात कर लेती हूँ तो शरमाती क्यू हो भाभी

मैं – ओके बाबा बोलो

शालु – भाभी भैया के लंड का साइज़ क्या है

मैं – 7इंच लंबा ओर 3इंच मोटा होगा

शालु – फिर तो नीरज का भी इतना ही साइज़ होगा

मैं – मुझे क्या पता पर आप कैसे कह सकती हैं ( एक बार को तो

मेरा मन किया के कह दू कि अरे पगली वो तो 8 इंच का है ओर मैने तो

उसका स्वाद बहुत ही ज़यादा चखा है) लेकिन मैं चुप रही

शालु – क्या सोचने लगी

मैं – कुछ भी नही

शालु – एक भाई का भी दूसरे के बराबर ही होगा थोड़ा बहुत बड़ा या

छोटा हो सकता है

मैं – आप कैसे कह सकती हैं

शालु – बस यू ही अंदाज़ा लगा रही हूँ

मैं – मैने सोचा शायद आप ने देखा हो

शालु – भाभी सुधर जाओ

मैं – ये बताओ आप के पति का किस साइज़ का है

शालु – 9 इंच लंबा ओर 3.5 इंच मोटा

मैं – हाई मैं मर गई

शालु – क्या हुआ

मैं – अरे मेरी तो ये 7इंच वाला ही जान निकाल देता है तुम 9इंच का

कैसे लेती होगी

शालु – पहले पहले डर लगता था भाभी अभी तो कोई डर नही लगता

अभी तो बहुत मज़ा आता है जितना बड़ा लंड उतना ही ज़यादा माजा आता

है [/color:3fhgofn1][/size:3fhgofn1]

Share
Posted in Uncategorized
Article By :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *