new sex story – सीमा की चुदाई (Seema Ki Chudai)

Share

सीमा की चुदाई (Seema Ki Chudai)

मै सीमा हूँ. मुझे सेक्सी चैट करना और सेक्सी कहानियां पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। मेरी फ़ीगर का साइज़ ३४ डी –२७–३२ है। मेरे मम्मे गोल गोल है। जब मैं टी–शर्ट और पैंट डालती हूं तो ३२ डी साइज़ की ब्रा डालती हूं। उसमे मेरे मम्मे बहुत टाइट लगते हैं और बिल्कुल सीधे नोकदार हो जाते हैं। मेरे भैया को टी–शर्ट में मेरे मम्मे बहुत आकर्षक लगते हैं। जब वो काम से आते हैं तो आते ही पहले मुझे जफ़्फ़ी में ले लेते हैं। और बहुत डीप किस करने के साथ साथ मेरे मम्मे प्रेस करते हैं और फिर टी–शर्ट को ऊपर उठा कर ब्रा के ऊपर से ही मेरे बूब्स जोर जोर से दबाते हैं। उनको दर्द देने में बहुत मजा आता है। फिर वो मुझे टेबल पर बिठा/लिटा कर मेरी टी–शर्ट ऊपर कर के मेरे बूब्स ब्रा से आज़ाद कर देते है…

थोड़ी देर बाद वो मेरे बूब्स चूसते हैं और बीच –२ में दांत से दर्द भी देते हैं। फिर मेरे नीचे वाले कपड़े मतलब सलवार। या स्कर्ट जो भी होती है। वो उतार देते हैं। मैं घर पर पैंटी बहुत ज़्यादा नहीं डालती। स्कर्ट/सलवार उतारने के बाद वो मेरे बूब्स चूसते–२ मेरी चूत में उंगली करते हैं… और मुझे और अपने आप को वार्म अप करते हैं…

एक दिन मुझे वार्म अप करने के बाद बोले, सीमा मैं तुझे आज ऐसी फ़िल्म दिखाउंगा कि तूने कभी देखी नहीं होगी। मैं भी देखने के लिये बहुत बेताब होने लगी, बोली भैया जल्दी से दिखाओ… भैया ने अपने बेग से सीडी निकाली और… प्लेयर में लगा दी…सचमुच ।। मूवी देख कर मेरी चूत में भी खुजली होने लगी…

उस मूवी में जंगल सीन थे…वो एक फ़ार्म हाउस का सीन थ… जहां पर जानवर और कुत्ते बहुत से थे… एक सीन में एक गर्ल और एक अंकल था। उसने घोड़े के लंड को अपने हाथ में ले लिया और धीरे–२ ऊपर नीचे करने लगा … धीरे–२ घोड़े का लंड बाहर निकलने लगा।

जब घोड़े का लंड पूरी तरह से बाहर निकल आया। तो उस अंकल ने घोड़े के पेट पर धीरे–२ से हाथ फेरना चालू रखा और लड़की को इशारा किय… लड़की पहले से सब–कुछ जानती थी।। वो घोड़े के पास आकर बैठ गयी और उसके लॉन्ग लंड को पहले हाथ में लेकर धीरे–२ आगे पीछे करने लगी… घोड़े का लंड और भी फूलकर टाइट हो गया।

घोड़े का लंड स्पीड से ऊपर नीचे हो रहा था … लड़की ने लंड को अपने मुंह में ले कर चूसना शुरु किया। मैने पहली बार किसी गर्ल को घोड़े का लंड चूसते देखा थ… मेरे दिल में भी बात आ रही थी कि काश मैं भी घोड़े का लंड चूसती… जैसे वो गर्ल चूस रही थी। कितना मज़ा आ रहा होगा उस लड़की को।

फिर उस अंकल ने घोड़े के नीचे एक बेंच बिछा दिया और लड़की उस पर लेट गयी। उसके मम्मे घोड़े के पेट से छू रहे थे … अंकल ने लड़की के चूत में कुछ लिक्विड लगाया और घोड़े का लंड एक हाथ से पकड़ कर एक हाथ से लड़की की चूत के मुंह को खोल दिया और घोड़े के लंड को उसकी चूत में फिट कर दिया … लड़की ने धीरे से अपनी कमर को ऊपर उठाया। घोड़े ने इशारा समझ लिया होगा जिस कारण उसने भी धीरे से अपना लंड लड़की की चूत में डालना शुरु किया … घोड़ा ऊपर से और लड़की नीचे से ऊपर हो रही थी धीरे–२ घोड़े का लंड लड़की की चूत में अंदर जा रहा था, जब लगभग आधे से ज़्यादा घोड़े का लंड लड़की की चूत में चला गया तो लड़की ने इशारा कर दिया … अंकल ने घोड़े को पीछे से नोक किया। घोड़ा रुक गया … लड़की नीचे से अपनी चूतड़ आगे–पीछे करने लगी… साथ–२ वो सिसकारियां भी लेती जा रही थी। अंकल लड़की के मम्मे चूस रहा था … उसके मम्मे भी मेरे मम्मे जैसे गोल गोल थे और मेरे ही साइज़ के लग रहे थे … मुझे ऐसे लग रहा था … जैसे वो घोड़ा मुझे ही चोद रहा है…

थोड़ी देर बाद घोड़े का लगबघ पूरा लंड लड़की के चूत में अन्दर बाहर होने लगा फिर घोड़े ने अपने लंड का पानी निकाल दिया, लड़की की चूत पूरी तरह से भर गयी। फिर भी घोड़े ने धक्के मारना नहीं छोड़ा, लड़की नीचे से तड़प रही थी और अपनी कमर ऊपर उठा कर पूरा लंड अन्दर लेने की कोशिश कर रही थी। फिर घोड़े ने अपना लंड उसकी चूत से निकाल दिया लड़की बेंच से उठकर बैठ गयी और घोड़े का लंड अनद उसका पानी अपने मुंह में लेकर पूरा का पूरा साफ़ कर दिया लड़की के चेहरे पर सेटिस्फ़ेक्शन था।

मेरा भी दिल कर रहा था। अभी कोई मेरी चूत में इतना मोटा लंड डाल दे मैने अपने भैया को बोला रवि भैया प्लीज़ मुझे भी किसी जानवर से चुदाई करवानी है कुछ करो, मेरा बहुत दिल कर रहा है, भैया ने कहा, मुझे पता है सीमा, तुम बहुत सेक्सी हो गयी हो इसलिये मैने अपने दुकान वाले को कहा है कि एक अच्छी नसल का कुत्ता हम लोगों को चाहिये, मेरी बहन घर पर अकेली होती है, तो उसने कहा, मेरे पास एक बहुत अच्छा डोगी है तुम उसे ले जाओ, कल मैं तुम्हारे लिये वो कुत्ता लेकर आउंगा और हम लोग उसके साथ सेक्सी खेल खेलेंगे लेकिन अभी तो मेरा लंड जो तुम्हारी तरफ़ देख कर सलामी मार रहा है, उसे तो शांत करो।

मेरे भैया ने मुझे ज़मीन पर लिटा दिया और मुझे डोगी स्टाइल में होने के लिये कहा। मैं डोगी जैसे बन गयी, मेरे गोल गोल मम्मे नीचे की तरफ़ लटकने लगे। हम दोनो ही नंगे हो चुके थे भैया का लंड जोश में लम्बा और मोटा हो चुका था, अब मुझसे भी सहन नहीं हो रहा था। मूवी देख कर मेरे चूत में भी बहुत खुजली हो रही थी, मेरे भैया ने अपना लंड पहले मेरे मुंह में देकर कर गीला कर लिया और जल्दी से मेरी चूत को चाट कर गीला कर दिया और जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया।

पहले आधा लंड मेरी चूत में डाला और फिर एक शोट में पूरा लंड अन्दर कर दिया मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे उस घोड़े का लंड मेरी चूत में चला गया हो। भैया का लंड है ही इतना लम्बा मोटा जब हाथ में लेती हूं तो ऐसा लगता है जैसे घोड़े का ही लंड हो लगभग १०-१५ मिनट के धक्के मारने के बाद मेरे भाई ने अपना लंड बाहर निकल दिया और मुझे पीठ के बल ज़मीन पर लिटा कर मेरे मम्मे के अन्दर अपना लंड बीच में डाल कर धक्के मारने लगा और अपना लंड का पानी मेरे मम्मे पर डाल दिया और कुछ पानी मेरे मुंह में भी डाल दिया। मैने जल्दी से उठ कर उसका लंड अपने मुंह में ले कर चूसने लगी। जैसे वो लड़की घोड़े का चूस रही थी। मुझे आज फ़िल्म देखने के बाद चुदवाने में कुछ ज्यादा मजा आया था। भैया ने भी मेरे बूब्स से अपना पानी चाट कर साफ़ कर दिया फिर हम दोनो बाथरूम में जाकर नहा कर रोटी खा कर एक दूसरे को बाहों में लेकर सो गये।

Share
Article By :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *